30 मिनट बारिश में नवलगढ़ रोड पर 3 फीट पानी: संघर्ष समिति ने पानी के बीच शुरू किया धरना



सीकर28 मिनट पहले

पानी के बीच ही धरने पर बैठे लोग।

सीकर में आज 30 मिनट की तेज बारिश में ही नवलगढ़ रोड पर 3 फीट पानी का जलभराव हो गया। जिसके बाद जलनिकासी की मांग को लेकर 46 दिन से धरने पर बैठे इस संघर्ष समिति के लोगों ने जलभराव के बीच ही अपना धरना शुरू कर दिया है। पानी के बीच यह धरना शाम 5 बजे तक चलेगा।

संघर्ष समिति के राधेश्याम ने बताया कि नवलगढ़ रोड की जल निकासी को लेकर यहां के स्थानीय लोगों ने पिछले कई सालों में सैकड़ों बार अधिकारियों को इस समस्या से अवगत करवा दिया है। लेकिन इसके बाद भी जब कोई कार्यवाही नहीं हुई तो सीकर में नवलगढ़ रोड पर धरना शुरू किया गया। आज सीकर में केवल 30 मिनट तक तेज बारिश हुई। जिसमें नवलगढ़ रोड पर तीन से 4 फीट तक जलभराव हो गया। ऐसे में संघर्ष समिति के लोगों ने निर्णय किया कि अधिकारियों के प्रति विरोध जताते हुए इस जलभराव के बीच ही धरना शुरू किया जाए। जिसके बाद यह धरना शुरू किया गया। राधेश्याम ने कहा कि यदि इस समस्या के समाधान के लिए हमें इस जलभराव के अंदर बैठना पड़े तो हम उसके लिए भी तैयार है। 13 करोड रुपए का बजट जारी होने के बाद भी काम शुरू नहीं किया जा रहा है। नगर परिषद का कहना है कि दिसंबर तक सीवरेज का काम होगा। लेकिन इसके बाद भी जल निकासी का काम होने में करीब 7 से 8 महीने का समय लगेगा। ऐसे में एक बार फिर बारिश का सीजन शुरू हो जाएगा।

बारिश के बाद हुए जलभराव के बाद यहां पानी के बीच वाहन खराब हो जाते हैं।

राधेश्याम ने कहा कि नगर परिषद के आयुक्त श्रवण कुमार विश्नोई का ट्रांसफर हो गया। अब नए आयुक्त अगले सप्ताह में ड्यूटी ज्वाइन करेंगे। ऐसे में हम उनको समस्या से अवगत करवा कर दो दिन में काम शुरू करने की मांग करेंगे। यदि फिर भी काम शुरू नहीं होता है तो हम नगर परिषद का घेराव कर आमरण अनशन शुरू कर देंगे।

नवलगढ़ रोड पर मानसून में तो 3 से 4 दिन तक लगातार ऐसे ही हालात रहते हैं।

नवलगढ़ रोड पर मानसून में तो 3 से 4 दिन तक लगातार ऐसे ही हालात रहते हैं।

बिना बारिश भी जलभराव

गौरतलब है कि नवलगढ़ रोड पर जलभराव की समस्या करीब 20 साल से भी ज्यादा पुरानी है। जल निकासी के लिए पर्याप्त सोर्स नहीं होने के चलते यहां कुछ मिनटों की बारिश में ही जलभराव हो जाता है। कई बार तो बिन बारिश के ही नालियां ओवरफ्लो होने पर 1 फीट पानी सड़क पर आ जाता है। धरने पर बैठी महिला संगीता ने बताया कि आज इस धरने पर बैठकर हम अधिकारियों को बताना चाहते हैं कि हम किस गंदगी में रहने को मजबूर हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link


Like it? Share with your friends!

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win
khabarplus

0 Comments

Your email address will not be published.