सभापति रेखा भाटी भाजपा से निलंबित: ठेकेदार हनुमानसिंह से कमीशन मांगने के आरोप के चलते किया निलंबित



पाली26 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

रेखा भाटी नगर परिषद सभापति। जिन्हें भाजपा की प्राथमिकता सदस्या से निलंबत किया गया।

नगर परिषद सभापति रेखा भाटी को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने भाजपा की प्राथमिक सदस्या से निलंबित किया है। जिसमें उन्होंने हवाला दिया की ठेकेदार हनुमानसिंह राजपुरोहित ने सुसाइड करने से पहले एक पत्र लिखा जिसमें आरोप लगाया कि नगर परिषद में किए गए कार्यो का भुगतान करने के लिए सभापति व अन्य अधिकारियों द्वारा रिश्वत मांगी जा रही है। आरोप की गंभीरता को देखते हुए भाजपा की प्राथमिक सदस्या से सभापति रेखा भाटी को निलंबित किया जाता है।

15 दिन का दिया समय
इसके साथ ही भाजपा प्रदेशाध्यक्ष डॉ सतीश पुनिया ने सभापति को 15 दिन का समय दिया है। जिसमें वे इस घटनाक्रम को लेकर अपना पक्ष रख सकती है।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पुनिया का पत्र। जो वायरल हो रहा है।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सतीश पुनिया का पत्र। जो वायरल हो रहा है।

पार्षदों का सवाल, राकेश भाटी को क्यों नहीं किया निलंबित
कई पार्षदों ने जिलाध्यक्ष से सवाल किया कि पार्षद राकेश भाटी का नाम भी सुसाइड नोट में है। फिर उन्हें भाजपा की सदस्या से निलंबित क्यों नहीं किया। मामले में भाजपा जिलाध्यक्ष मंशाराम परमार ने बताया कि नगर परिषद सभापति पद पर रेखा भाटी है। इसलिए उन्हें ने निलंबित करने की कार्रवाई पाली के प्रदेश अध्यक्ष से की। पार्षद राकेश भाटी को पार्टी की सदस्या से निलंबित क्यों नहीं किया इसको लेकर बात करेंगे।

पार्षद लगातार कर रहे निलंबन की मांग
बता दे कि सभापति रेखा-राकेश भाटी और पार्षदों में गतिरोध पिछले काफी समय से चल रहा है। पूर्व उपसभापति मूलसिंह भाटी से लेकर पार्षद किशोर सोमनानी, जय जसवानी, तेजाराम भायल, राधेश्याम चौहान, विकास बुबकिया, बलवंत पेटल सहित कई पार्षद उनके काम नहीं होने। सभापति और उनके पार्षद पति द्वारा भाजपा कार्यकर्ता की ढंग से व्यवहार नहीं करने की शिकायतें कर चुके है। अब ठेकेदार हनुमानसिंह राजपुरोहित के आत्महत्या करने के बाद एक बार फिर पार्षद सभापति और उनके पति को निलंबति करने की मांग पर अड़ गए थे। ऐसे में भाजपा प्रदेश महामंत्री मदन दिलावर शनिवार शाम को पाली पहुंचे थे पार्षदों की बात सुनने लेकिन जब उन्होंने कहा कि निलंबन की कार्रवाई प्रदेश अध्यक्ष करेंगे वे रिपोर्ट बनाकर उन्हें सौंप देंगे। इस पर पार्षद नाराज हो गए थे। उनकी मांग थी कि सभापति और उनके पति को भाजपा की प्राथमिक सदस्या से तुरंत निष्काषित किया जाए। इसको लेकर उन्होंने शनिवार रात को डिस्ट्रिक्ट क्लब में धरना भी दिया था और हंगामा किया था।

यह भी पढ़े : कमीशनखोरी से परेशान ठेकेदार फंदे से लटका, दिनभर चला हंगामा:रात को हुए पोस्टमार्टम के लिए हुए राजी, इधर पार्षदों ने लगाए सांसद हाय-हाय के नारे

यह भी पढ़े : पट्‌टा नहीं मिलने पर विरोध में उतरे BJP पार्षद:अपने ही सभापति के खिलाफ बोले, दलालों से आने वाली फाइलों को पहले देखा जा रहा

पार्षद बोले, पाली चेयरमैन बदले या हम इस्तीफा देंगे:विधायक ने कहा- जिसे आगे बढ़ाया, उसी ने पार्टी को कमजोर कर दिया

खबरें और भी हैं…



Source link


Like it? Share with your friends!

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win
khabarplus

0 Comments

Your email address will not be published.