रिटायर्ड डिप्टी के साथ इन्वेस्ट किए थे 6 करोड़ रुपए: घर बुलाकर धमकाते थे, पहले नींद की गोलियां खाकर किया था सुसाइड का प्रयास



जयपुर16 मिनट पहले

जयपुर के बिजनेसमैन ने खुद को गोली मार सुसाइड कर लिया था। इससे पहले उन्होंने वीडियो बनाकर सुसाइड का कारण बताया है। इस केस में रिटायर्ट डिप्टी समेत उनके बेटे और पार्टनर का नाम सामने आया। आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर परिजन बुधवार देर रात तक शास्त्री नगर थाने के बाहर धरना देकर बैठे रहे। इसके बाद पुलिस ने सत्यार्थ तिवाडी, रमेश चंद्र तिवाडी और लोकपाल पारीक को गिरफ्तार कर लिया है।

लेकिन, बिजनेसमैन और इनके बीच ये विवाद नया नहीं था। कोरोना से पहले बिजनेसमैन मनमोहन सोनी ने आरोपियों के साथ मिलकर साढ़े 6 करोड़ रुपए इन्वेस्ट किया। जब रुपए नहीं दिए तो बिजनेसमैन ने थाने में मामला दर्ज करवाया। रिटायर्ड डिप्टी ने अपने रसूख का फायदा उठाया और मामले में बिना जांच के एफआर लगा दी गई। इसके बाद से इनके बीच ठनी शुरू हुई। करोड़ों रुपए नहीं देने पर मनमोहन सोनी ने बुधवार को खुद को गोली मार दी।

मनमोहन सोनी ने इसी कमरे में खुद को गोली मारी है। गोली चलने की आवाज सुनकर परिवार वाले कमरे में पहुंचे तो वो लहूलुहान पड़े थे। फौरन उन्हें हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया था।

इस खास रिपोर्ट में पढ़े कैसे इस पूरे विवाद की कहानी शुरू हुई…

मनमोहन सोनी का जयपुर में परचूनी का बिजनेस है। रिटायर्ड डिप्टी रमेश तिवाड़ी, सत्यार्थ तिवाड़ी, रमेश चंद्र तिवाड़ी और यथार्त तिवाड़ी ब्याज, फाइनेंस और लोन का काम करते थे। मनमोहन सोनी इन लोगों को पहले से जानते थे। उन्हें पता था कि लोन के बदले काफी ब्याज देते हैं।

इस पर उन्होंने आरोपियों को साढ़े 6 करोड़ रुपए इन्वेस्टमेंट के लिए दे दिए। इस बीच कोरोना आ गया और रुपए लोगोंं ने रुपए लौटाना बंद कर दिया। मनमोहन सिंह का साढ़े 6 करोड़ रुपए डूबने लगा तो लौटाने की बात कही। इस पर धमकाया कि वह रुपए नहीं लौटाएंगे।

पत्नी ने 2020 में दर्ज करवाया था मामला

जब रुपए नहीं आए तो मनमोहन सोनी की पत्नी नीतू ने 2020 में शास्त्री नगर थाने में आरोपियों के खिलाफ नामजद रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। रिपोर्ट में बताया- सत्यार्थ तिवाड़ी पुत्र रमेश चन्द्र तिवाड़ी रिटायर्ड डिप्टी ने सत्यार्थ तिवाड़ी के साथ मिलकर पति को झांसे में लिया। इसके बाद हमारा मकान गिरवी रख साढ़े 6 करोड़ रुपए पति से ले लिए। जब मेरे पति ने रुपए मांगे तो पहले तो वह टालता रहा।

एक दिन सत्यार्थ तिवाड़ी ने पैसा देने के लिए अपने घर बुलाया। इस दौरान पूर्व डिप्टी रमेश चन्द्र तिवाडी व यर्थात तिवाडी भी मौजूद थे और मेरे पति के साथ अभद्र व्यवहार किया। धमकाया कि दोबारा रुपए मांगे तो अच्छा नहीं होगा। सत्यार्थ तिवाड़ी ने अपने रिश्तेदार सचिन शर्मा से भी झूठे केस में फंसाने की धमकी दिलवाई। रिपोर्ट में नीतू ने डॉ. अर्जुला चौधरी समेत अन्य लोगों पर भी धमकाने का आरोप लगाया था।

इसी लाइसेंसी रिवॉल्वर से डिपार्टमेंटल स्टोर चलाने वाले मनमोहन सोनी ने खुद को गोली मार ली। परिवार वालों ने बताया कि पार्टनर ने धोखा दिया था। 7 करोड़ रुपए डूब गए थे। इसलिए वो परेशान चल रहे थे।

इसी लाइसेंसी रिवॉल्वर से डिपार्टमेंटल स्टोर चलाने वाले मनमोहन सोनी ने खुद को गोली मार ली। परिवार वालों ने बताया कि पार्टनर ने धोखा दिया था। 7 करोड़ रुपए डूब गए थे। इसलिए वो परेशान चल रहे थे।

डिप्रेशन में किया था सुसाइड का प्रयास, नींद की गोलियां खाईं
नीतू की पत्नी ने बताया कि मामला दर्ज कराने के बाद पुलिस ने बिना जांच कर एफआर लगा दी। नीतू ने बताया कि इससे दुखी होकर मेरे पति ने दोबार सत्थ्यार्थ तिवाड़ी समेत अन्य लोगों के खिलाफ कोर्ट में परिवाद दिया था। ले न, इसके बाद भी उन्हें धमकी मिलती रही। बार-बार नोटिस भेज परिवार को परेशाान किया जा रहा था।

ऐसे में वह डिप्रेशन में आ गए और 18 दिसंबर 2020 को मनमोहन सोनी ने नींद की गोलियां खाकर सुसाइड का प्रयास किया। लेकिन, समय से घरवालों को पता चल गया, जिस पर उन्हें हॉस्पिटल ले जाया गया और वहां एडमिट किया गया।

इधर, अब इन सभी से परेशान मनमोहन सोनी ने अपने घर में खुद की पिस्तौल से सीने में गोली मार सुसाइड कर लिया।

बिजनेसमैन ने सुसाइड से पहले वीडियो में क्या बोला…

सुसाइड से पहले मनमोहन सोनी ने वीडियो भी बनाया। इसमें उन्होंने कहा है- मैं सुसाइड करने का कई बार मन बना चुका हूं। इसे लेकर वह कई बार वीडियो भी बना चुका हूं। लेकिन हिम्मत नहीं हुई। मेरी आत्महत्या का जिम्मेदार सत्यार्थ तिवाड़ी, यर्थात तिवाड़ी, रमेश चंद तिवाड़ी, एनी भारद्धाज और लोकराज पारीक हैं। इनको सजा दें।

मेरे परिवार को इनसे पैसा दिलवाएं। बहुत परेशान हो गया हूं। बहुत दुखी हो गया हूं। बैंकों के फोन आ रहे हैं। इन लोगों ने मुझे बैंकों के कर्जे में डुबा दिया है। कर्ज मैं चुका नहीं पा रहा हूं। ये मेरा लेटेस्ट वीडियो है।

इससे पहले के दो और वीडियो भी हैं। हिम्मत नहीं जुटा पाया था आत्महत्या करने की। मेरी एलआईसी में एक पॉलिसी है। उसका क्लेम भी दिलवा दिया जाए। जिससे मेरे घरवालों को सहायता मिल सके। प्लीज रिक्वेस्ट है। समाज के लोगों से मेरे घरवालों से रिक्वेट है कि परेशान मत होना। दुखी मत होना। समाज में बड़े-बडे लोगों से भी अपील है कि वह मेरे परिवार को न्याय दिलवा देना प्लीज।

मनमोहन सोनी के परिजन देर रात तक शास्त्री नगर थाने के बाहर धरना देकर बैठे रहे। परिजन मांग कर रहे थे कि आरोपियों को गिरफ्तार किया जाए।

मनमोहन सोनी के परिजन देर रात तक शास्त्री नगर थाने के बाहर धरना देकर बैठे रहे। परिजन मांग कर रहे थे कि आरोपियों को गिरफ्तार किया जाए।

इधर, घटना के बाद पुलिस ने दोबारा दर्ज की एफआईआर
मृतक मनमोहन सोनी के भाई रोहित सोनी ने इस घटना के बाद दोबारा बुधवार को शास्त्री नगर थाने में मामला दर्ज करवाया। रोहित सोनी ने बताया कि 11:15 बजे मैं दुकान जाने की तैयारी कर रहा था। तभी धमाके की आवाज देख कमरे में गया तो पता चला भाई ने खुद को गोली मार दी है।

आरोप लगाया कि आत्महत्या के लिए उकसाया गया है। सत्यार्थ तिवाडी पुत्र रमेश चन्द तिवाडी, रमेश चंद तिवाडी, एनी भारद्वाज व लोकराज पारीक करीब 6 करोड़ 50 लाख रुपए ले रखे थे। रुपए मांंगने के बाद भी नहीं दिए गए। कुछ दिनों पहले जब रुपए मांगे तो जान से मारने की धमकियां दी और धमकाया कि परिवार को खत्म कर देंगे।

ये भी पढ़ें

जयपुर में बिजनेसमैन ने खुद को मारी गोली:सुसाइड से पहले बनाया वीडियो; परिवार बोला- पार्टनर 7 करोड़ खा गया था, इसलिए परेशान थे

जयपुर में बिजनेसमैन ने बुधवार को खुद को गोली मारकर सुसाइड कर लिया। इससे पहले उन्होंने वीडियो बनाकर सुसाइड का कारण बताया है। उधर, गोली चलने की आवाज सुनकर परिवार के लोग कमरे में पहुंचे तो सामने कारोबारी लहूलुहान पड़े थे। परिवार वाले फौरन उन्हें कांवटिया हॉस्पिटल लेकर पहुंचे, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। मामला शास्त्रीनगर इलाके का है।

शास्त्री नगर थाना के एएसआई लक्ष्मण सिंह ने बताया कि मनमोहन सोनी (41) आरपीए के सामने स्वर्णकार कॉलोनी में रहते थे। इनका पानीपेच तिराहे के पास डिपार्टमेंटल स्टोर है। बुधवार दोपहर करीब 10.30 बजे मनमोहन ने अपनी लाइसेंसी रिवॉल्वर से सीने में गोली मार ली। उस समय घर में मनमोहन, पत्नी नीतू सोनी (40), बेटा यश (20), मां और छोटे भाई रोहित सोनी की पत्नी मौजूद थी। (यहां पढ़ें पूरी खबर)

खबरें और भी हैं…



Source link


Like it? Share with your friends!

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win
khabarplus

0 Comments

Your email address will not be published.