राहुल गांधी की यात्रा ने पार्टी को संदेश दिया: सचिन पायलट ने कहा, राजस्थान की परिपाटी को तोड़ना जरुरी, दिल्ली में बैक-टू-बैक कांग्रेस की 3 बार सरकार बनी




  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Nagaur
  • Sachin Pilot Said, It Is Necessary To Break The Practice Of Rajasthan, Back to back Congress Government Was Formed In Delhi 3 Times

नागौर4 घंटे पहले

राजस्थान में राहुल गांधी की यात्रा के बाद प्रदेश के लोगों और कांग्रेस के कार्यकर्ताओं में एक नई ऊर्जा का संचार हुआ है। पार्टी एकजुट हुई है। 26 जनवरी से हाथ से हाथ जोड़ों अभियान भी शुरू होगा। वहीं आने वाले चुनाव में जीत हासिल करना ही हर एक पार्टी के कार्यकर्ता का अब लक्ष्य है। राजस्थान में पिछले पच्चीस तीस सालों से ये परिपाटी चली आई है कि एक बार कांग्रेस तो एक बार बीजेपी की सरकार बनी है। लेकिन इस बार इस परिपाटी को तोड़ना होगा। दिल्ली में बैक-टू-बैक शीला दिक्षीत की सरकार तीन बार बनी है। असम, हरियाणा और आंध्रा में रिपिट हुई है। इस बार राजस्थान में कांग्रेस सरकार को रिपिट करने में सभी जुटे है, वहीं 2024 के चुनाव में केंद्र में भी पूरी कोशिश रहेगी कि कांग्रेस मजबूती से चुनाव लड़े। ये पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट ने सोमवार को नागौर सर्किट हाउस में कहा। उन्होंने कहा कि ये उत्तर भारत एक भ्रम है कि बीजेपी को हराना मुश्किल है। लेकिन ऐसा नहीं है। जनता जनार्धन है, सब मिलकर संगठन, पार्टी और कार्यकर्ताओं को एकजुट रखकर चुनाव लड़े। परबतसर में किसान सम्मेलन हुआ, जिसमें भारी तादात में किसान पहुंचे। केंद्र सरकार को 9 साल पूरे होने जा रहे है। जो केंद्र की सरकार ने किसानों से वादे किए थे, उस पर खरी नहीं उतरी है। कृषि कानून बनाया, एक साल विरोध किया तो विड्रो करना पड़ा। एमएसपी की खरीद पर कानून बनाएंगे, किसानों के मुद्दे ज्वलंत है, हर तरफ किसान पीस रहा है। दो तिहाई जनता खेती निर्भर है, उन लोगों के बारे में चर्चा करते है, लेकिन केंद्र में जो सरकार है वो उनके हर मुद्दे पर फैल हुई है। किसानों की चिंता केंद्र सरकार नहीं कर रही है।

पेपर लीक की घटनाएं दुखद –

नौजवानों की बात पर सचिन पायलट ने कहा कि वे हमेशा इसके पक्षधर रहे है। 50 प्रतिशत पद और टिकट मिलना चाहिए। उदयपुर में सोनिया गांधी ने स्पष्ट कर दिया था कि नौजवानों को ही आगे लाना है। फिर चाहे संगठन हो या फिर चुनाव में टिकट देने की बात हो। सचिन पायलट ने पेपर लीक मामले को दुखद बताया। कहा कि बार बार होना गलत है। बड़ी मुश्किल से युवा परीक्षाओं की तैयारी करते है, फिर उनके भविष्य पर पानी फिर जाता है। कई सरगना पकड़े गए है, और भी कार्रवाईयां की जा रही है। लेकिन सरकार को कोई ठोस कदम उठाना चाहिए, जिससे बार बार जो पेपर लीक के मामले हो रहे है उन पर लगाम लगाई जा सके। कुछ लोग फरार है, इनके ऊपर भी कुछ लोग हो सकते है। इन पर जल्द से जल्द कार्रवाई कर सरकार को एक उदाहरण पेश करना चाहिए।

खबरें और भी हैं…



Source link


Like it? Share with your friends!

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win
khabarplus

0 Comments

Your email address will not be published.