युवक को बांधकर पीटने के 2 आरोपी गिरफ्तार: खेत में बने मकान में सो गया था पीड़ित, तीसरे आरोपी की तलाश



हनुमानगढ़एक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

पीलीबंगा पुलिस ने 18 एसपीडी गांव में एक मंदबुद्धि युवक को पोल से बांधकर जान से मारने की नियत से मारपीट करने के मामले में 2 नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

जिले की पीलीबंगा पुलिस थाना क्षेत्र के 18 एसपीडी गांव में एक मंदबुद्धि युवक को पोल से बांधकर जान से मारने की नियत से मारपीट करने के मामले में 2 नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस फिलहाल दोनों पकड़े गए आरोपियों से हत्या के प्रयास में की गई मारपीट से जुड़े मामले में पूछताछ में जुटी हुई है। पकड़े गए दोनों आरोपी सगे भाई हैं।

मंदबुद्धि युवक से बेरहमी से मारपीट करने के मामले में ग्रामीण व परिजन पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़े कर एसपी और कलेक्टर तक मिलने पहुंचे थे। इसके बाद हरकत में आई पुलिस ने आरोपियों के ठिकानों पर दबिश देते हुए दो सगे भाई विजय गोदारा व धर्मपाल गोदारा पुत्र इंद्राज गोदारा निवासी 18 एसपीडी को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। फिलहाल पुलिस दोनों से कड़ी पूछताछ में जुटी हुई है। पीलीबंगा पुलिस तीसरे नामजद आरोपी रमेश ज्याणी को गिरफ्तार करने के लिए दबिश दे रही है।

ये था मामला
जांच अधिकारी पीलीबंगा थाना प्रभारी विजय मीणा ने बताया कृष्णलाल पुत्र पुरखाराम जाति जाट निवासी 18 एसपीडी ने पुलिस थाना पीलीबंगा में आकर रिपोर्ट दी थी कि मेरा लड़का राकेश कुमार जो मन्दबुद्धि है इसी वजह से राकेश कुमार घर से बाहर कहीं जाकर सो जाता है तथा जब भी भूख प्यास लगती है घर आकर या मांगकर खा पी लेता है। राकेश कुमार 10 अक्टूबर की रात इन्द्राज गोदारा के खेत मे बने मकान के पास जाकर सो गया था। उसी रात करीबन 11 बजे विजय गोदारा-धर्मपाल गोदारा पिता इन्द्राज गोदारा निवासी 18 एसपीडी और रमेश ज्याणी पुत्र श्योकरण राम निवासी 18 एसपीडी मकान के पास आये और पहले तो राकेश कुमार को धमकाया कि तुने यहां चोरी की है फिर झूठी चोरी की हां करवाने के लिए सभी ने मिलकर राकेश कुमार को पोल से बांध दिया।

लाठी व डण्डों से विजय, धर्मपाल व रमेश ज्याणी ने राकेश कुमार को इतनी बुरी तरह से मारा कि राकेश कुमार की हालत बहुत बिगड़ गई और राकेश कुमार गंभीर अन्दरूनी व बाहर चोटें आई थी। इसके बाद सभी यह समझकर राकेश कुमार मर गया है तो राकेश कुमार की रस्सी खोलकर वहां से भाग गए थे। जब राकेश कुमार को 24 घण्टे के बाद कुछ होश आया तो राकेश कुमार दर्द से चिल्लाने लगा था। उसके बाद सभी आरोपी राकेश कुमार को देखने के लिए गए तो उन्होंने देखा कि राकेश कुमार दर्द से करकराह रहा था तो वापिस आकर राकेश कुमार को वहां से उठा कर ले गये थे। इस मामले में पुलिस ने तीन नामजद आरोपियो में से 2 को गिरफ्तार कर लिया है।

खबरें और भी हैं…



Source link


Like it? Share with your friends!

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win
khabarplus

0 Comments

Your email address will not be published.