भाजपा मंडल अध्यक्ष पर फायरिंग का खुलासा: 3 आरोपी गिरफ्तार, मुख्य आरोपी अभी भी पकड़ से दूर



धौलपुरएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

कोतवाली थाना पुलिस ने गत महीने भाजपा के शहर मंडल अध्यक्ष मुस्ताक कुरैशी पर हुई फायरिंग के मामले का पर्दाफाश कर 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

कोतवाली थाना पुलिस ने गत महीने भाजपा के शहर मंडल अध्यक्ष मुस्ताक कुरैशी पर हुई फायरिंग के मामले का पर्दाफाश कर दिया है। साथ ही 3 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं, घटना का मुख्य आरोपी अभी भी फरार है, जिसकी पुलिस तलाश कर रही है।

कोतवाली थाना प्रभारी अनिल जसोरिया ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर कार्रवाई करते हुए भेसेना रोड जेल के पास से भाजपा के शहर मंडल अध्यक्ष मुश्ताक कुरैशी पर की गई फायरिंग के मामले के आरोप सचिन उर्फ चेला (20) पुत्र माताप्रसाद गुर्जर निवासी सहानपुर थाना सदर व हाल निवासी जेल के पास धौलपुर, प्रशान्त (20) पुत्र मलखान मीणा निवासी हासई थाना कंचनपुर जिला धौलपुर और धनजंय (23) पुत्र रामबटटा मीणा निवासी खानपुर मीणा थाना सदर बाड़ी जिला धौलपुर को गिरफ्तार किया गया है।

थाना प्रभारी जसोरिया ने बताया कि 18 सितंबर 2022 को मुश्ताक कुरैशी निवासी नौगजा पुराना शहर धौलपुर द्वारा थाने पर मुकदमा दर्ज कराया गया कि शाम के समय घर के दरवाजे पर खड़ा था। तभी बाइक से चीता उर्फ परवेज, रामअवतार, शाहरुख आए और जान से मारने की नीयत से मेरे ऊपर फायर किया, जिससे बाल-बाल बचा गया। जिस पर जांच की गई तो यह तथ्य सामने आया कि चीता उर्फ परवेज शहर का एक बदमाश है। जिसकी उदयवीर गुर्जर निवासी तिघरा से आपसी रंजिश चल रही है। पूर्व में भी इस संबंध में थाना कोतवाली पर मुकदमें दर्ज हुए है। चीता उर्फ परवेज रामअवतार कोली, भूरा सरदार बगैरा से मुश्ताक कुरैशी की रंजिश चली आ रही है। पूर्व में चीता द्वारा अपने सहयोगियों के साथ मुश्ताक कुरैशी के साथ मारपीट कर जान लेवा हमला किया था, जिसमें लगभग सभी आरोपी गिरफ्तार हो चुके हैं, जिसमें से कुछ अभी भी जेल में है।

क्यों हुई शहर मंडल अध्यक्ष पर फायरिंग
वारदात के साजिशकर्ता उदयवीर द्वारा चीता उर्फ परवेज से अपनी रंजिश के चलते उसने अपने दोस्त चेला उर्फ सचिन व धंनजय मीणा प्रशान्त मीणा को मुश्ताक पर फायरिंग के लिए उकसाया, क्योंकि मुश्ताक की चीता बगैरा से रंजिश चली आ रही है। मुश्ताक पर कोई भी हमला होने पर वह चीता पर ही शक करके उसके खिलाफ प्रकरण दर्ज कराएगा। इसी योजना के साथ उदयवीर द्वारा धंनजय व चेला को तैयार किया। धनजंय द्वारा अपने साथ प्रशान्त को भी साथ में लिया। घटना वाले दिन से ही इन्होने योजना बनाकर पहले घर की रैकी की, फिर योजनानुसार धंनजय अपने लोकल परिचित की बाइक मांगकर लाया। जिसे सचिन उर्फ चेला चलाकर ले गया और मुश्ताक के घर योजनानुसार धंनजय द्वारा फायर किए गए और तीनों वहां से भाग गए।

मुश्ताक द्वारा पूर्व की रंजिश के आधार पर चीता बगैराह के विरूद्ध एफआईआर दर्ज करा दी थी। पुलिस को इस वारदात में नामजद आरोपियों के विरूद्ध साक्ष्य नहीं मिल रहे थे, लेकिन वारदात किसने की इस बात का खुलासा करना पुलिस का उत्तरदायित्व था। धीरे-धीरे सीसीटीवी कैमरों और आम सूचना संकलन व साइबर टीम के आधार पर खुलासा करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। थाना प्रभारी ने बताया कि वारदात का साजिशकर्ता उदयवीर गुर्जर निवासी तिघरा थाना सदर धौलपुर अभी फरार है। जिसकी तलाश की जा रही है।

खबरें और भी हैं…



Source link


Like it? Share with your friends!

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win
khabarplus

0 Comments

Your email address will not be published.