पुराने संस्थान लगातार टॉपर: नई पीढ़ी के उदयपुर सहित छह आईआईएम का परसेप्शन खराब, छह साल से कोई टॉप में भी नहीं



उदयपुर2 मिनट पहलेलेखक: गिरीश शर्मा

  • कॉपी लिंक

भास्कर में पढ़िए एक दशक पहले स्थापित 6 आईआईएम और वर्षों पुराने आईआईएम का रिपोर्ट कार्ड।

करीब एक दशक पहले स्थापित उदयपुर सहित 6 नए आईआईएम अब तक रिसर्च एंड प्रोफेशनल प्रेक्टिस और परसेप्शन के मानकों से जूझ रहे हैं। इसी का नतीजा है कि नेशनल इंस्टीट्यूशनल रैंकिंग फ्रेमवर्क की रैंकिंग में ये आईआईएम बीते 7 साल से (उदयपुर की साल 2016 में 5वीं रैंक को छोड़कर) टॉप-10 में भी जगह तक नहीं बना पा रहे हैं। इन नए आईआईएम में शामिल रायपुर, रांची, रोहतक की स्थापना 2010 में हुई, जबकि काशीपुर, तिरुचिरापल्ली और उदयपुर 2011 में स्थापित हुए।

दूसरी ओर, ओल्ड इज गाेल्ड की कहावत काे चरितार्थ करते हुए पुराने आईआईएम अहमदाबाद, बेंगलुरू, कोलकाता, कोझीकोड, इंदौर बेहतरीन पेयर परसेप्शन के दम पर अव्वल बने हुए हैं। अगर आईआईएम अहमदाबाद की बात करें ताे यह पिछले तीन साल से पहली, बेंगलुरू लगातार तीन साल से दूसरी और कोलकाता तीसरी रैंक पर बरकरार है। नए आईआईएम में उदयपुर पिछले 7 साल में चार बार टाॅप-15 में शामिल रहा, लेकिन 2022 में यह टाॅप-20 से भी बाहर हाे गया।

इसकी 22वीं रैंक रही। आईआईएम तिरुचिरापल्ली 5 बार टॉप-15 में शामिल रहा और इन नए आईआईएम में लगातार टॉप-20 में बना हुआ है। रोहतक और काशीपुर का एक बार भी ऐसा प्रदर्शन नहीं रहा कि उन्हें टॉप-15 में स्थान मिल सके। चाैकाने वाले यह आंकड़े नेशनल इंस्टीट्यूशनल रैंकिंग फ्रेमवर्क (NIRF) की 2016 से 2022 तक जारी रैंक के हैं।

नई पीढ़ी
डाउन परसेप्शन….7 से 10 तक अंक भी मिले
वर्ष उदयपुर रांची रोहतक रायपुर काशीपुर तिरुचिरापल्ली

2022 26.93 33.77 30.49 20.22 32.71 65.58
2021 27.67 35.61 27.82 23.05 21.81 61.64
2020 21.30 38.92 19.85 15.15 16.24 59.08
2019 25.08 39.92 21.13 18.80 13.73 28.05
2018 18.73 58.17 13.37 17.81 10.13 58.06
2017 14.11 76.81 07.35 16.16 12.26 34.11
2016 93.00 44.00 43.00 40.00 89.00 43.00

पुरानी पीढ़ी
परसेप्शन अव्वल, इसलिए ओल्ड इज गोल्ड
वर्ष अहमदाबाद बेंगलुरू कोलकाता कोझीकोड इंदौर लखनऊ
रैंक/परसेप्शन रैंक/परसेप्शन रैंक/परसेप्शन रैंक/परसेप्शन रैंक/परसेप्शन रैंक/परसेप्शन

2022 1/98.62 2/100 3/94.74 5/73.46 7/56.88 6/78.67
2021 1/98.53 2/100 3/94.87 4/74.10 6/59.31 7/75.51
2020 1/95.99 2/100 3/95.26 6/71.63 7/55.67 4/73.17
2019 2/96.32 1/100 3/94.02 8/69.22 5/51.93 4/69.57

नई और पुरानी पीढ़ी के आईआईएम की रैंक और आंकड़े एनआईआरएफ के अनुसार। इसमें अहमदाबाद, बेंगलुरू और कोलकाता आईआईएम पिछले चार साल से टॉप-2 में बने हुए हैं।

इसलिए रैकिंग में लगातार पिछड़ रहे नए आईआईएम
रिसर्च एंड प्रोफेशनल प्रेक्टिस (आरपी) और पीयर परसेप्शन (पीआर) में श्रेष्ठ प्रदर्शन (90.85 अंक) के कारण आईआईएम उदयपुर को 2016 में 5वीं रैंक मिली। बाद में आरपी और पीआर का ग्राफ गिरता गया और कभी भी (35.34 अंक) से ऊपर नहीं जा पाया। 2017 में तो यह (16.11 अंक) तक नीचे अा गया। आरपी में केवल (6.46 अंक) मिलने से आईआईएम रांची की रैंक 2018 में 40 पर पहुंच गई थी। परसेप्शन में सबसे कम स्कोर रोहतक (07.35 अंक, वर्ष 2017) रहा और सर्वाधिक स्कोर उदयपुर का (93 अंक, वर्ष 2016) रहा। वर्ष 2017 से 2022 के बीच किसी भी आईआईएम का आरपी स्कोर (42.86 अंक) से अधिक नहीं रहा। यह स्कोर भी तिरुचिरापल्ली ने 2019 में हासिल किया और 14वीं रैंक के साथ टॉप-15 में जगह सुरक्षित की।

7 साल में एनआईआरएफ में नए आईआईएम की रैंकिंग
वर्ष उदयपुर रायपुर रांची रोहतक काशीपुर तिरुचिरापल्ली

2016 05 18 28 19 21 14
2017 15 14 25 19 20 13
2018 13 21 40 27 20 15
2019 13 19 28 23 25 14
2020 17 19 20 21 33 15
2021 18 15 18 28 33 17
2022 22 14 15 16 23 18

खबरें और भी हैं…



Source link


Like it? Share with your friends!

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win
khabarplus

0 Comments

Your email address will not be published.