पुजारी परिवार को जिन्दा जलाने की कोशिश: दुकान में घुस कर पेट्रोल बम फेंका; बुजुर्ग दंपती 80 फीसदी तक झुलसा



राजसमंदएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

देवगढ में पुजारी परिवार पर दबंगों ने पेट्रोल बम फेंक लगाई आग।  

राजसमंद में रविवार देर रात बुजुर्ग दंपती को जिंदा जलाने के लिए पेट्रोल बम से हमला कर दिया गया। हमलावरों की संख्या 10 के लगभग बताई जा रही है। हमले में पुजारी व उसकी पत्नी 80 फीसदी तक झुलस गए। दोनों को पुलिस ने अस्पताल पहुंचाया, जहां उनकी हालत गंभीर बनी हुई है।

मामला राजसमंद जिले के देवगढ़ थाना इलाके का है। जानकारी के मुताबिक रविवार देर रात पुजारी परिवार की दुकान में पेट्रोल बम फेंक कर आग लगा दी गई। इस हमले में पुजारी और उसकी पत्नी बुरी तरह से झुलस गए। जिनको देवगढ़ सीएचसी में भर्ती कराया गया है। दोनों की स्थिति गंभीर बनी हुई है। पुलिस ने इस मामले में 8 संदिग्धों को हिरासत में लिया है।

जमीन विवाद को लेकर हुआ हमला

जानकारी के अनुसार राजसमंद के देवगढ़ पुलिस थाना क्षेत्र में नेशनल हाईवे-8 कामली घाट स्थित एस्सार पेट्रोल पंप के सामने मंदिर की जमीन के विवाद में रविवार रात करीब 8.30 बजे 10-12 लोगों ने दुकान में घुसकर पुजारी और उसकी पत्नी पर पेट्रोल बम फेंक दिया।

दंपती 80 फीसदी तक झुलसा

इस हमले में पुजारी दंपती 80 फीसदी तक झुलस गया। पुजारी परिवार को पुलिस ने अस्पताल में भर्ती कराया। आरोपी मौके से फरार हो गए। इस विवाद में पुलिस की लापरवाही भी सामने आई है।पुजारी के बेटे का कहना है कि चौकी में पहले ही शिकायत की थी। लेकिन सुनवाई नहीं की। घटना के समय पुजारी परिवार खाना खा रहा था।

पुलिस पर लापरवाही का आरोप

पुजारी के पुत्र मुकेश प्रजापत के अनुसार उनका परिवार खाना खा रहा था। करीब 10 बदमाश आए थे। पेट्रोल बम फेंकने से पुजारी नवरत्न लाल ( 75) पुत्र रंग लाल प्रजापत एवं उनकी पत्नी जमना देवी (60) निवासी हीरा की बस्सी के कपड़ों ने आग पकड़ ली। दोनों बुरी तरह झुलस गए। मुकेश ने पानी डालकर आग बुझाई। बताया कि विवाद को लेकर उन्होंने पहले ही कामली घाट चौकी पर रिपोर्ट भी दी, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई।

घटना के बाद आरोपी मौके से हुए फरार। घटना के बाद दुकान से आग की लपटें व धुएं को देखकर आसपास के लोग मौके पर पहुंचे, तब तक आरोपी भाग चुके थे। ग्रामीणों ने पानी और मिट्टी डालकर आग बुझाई और देवगढ़ पुलिस तथा 108 एम्बुलेंस को सूचना दी। ग्रामीणों ने एम्बुलेंस की मदद से दोनों घायलों को देवगढ़ हॉस्पिटल भेजा।

सीएचसी में डॉ. अनुराग शर्मा, डॉ. शांति लाल एवं मेडिकल टीम ने उनका उपचार शुरू किया। बताया कि घायल पुजारी नवरत्न प्रजापत (80) प्रतिशत तक झुलस गए। उन्हें प्रारम्भिक उपचार के बाद रेफर कर दिया गया।

अस्पताल में भीड़ जुटी

घटना की सूचना पर देवगढ़ थानाधिकारी शैतान सिंह नाथावत जाप्ता लेकर पहुंचे और हालात का जायजा लिया। तहसीलदार मुकन्द सिंह, एसआई प्रताप सिंह भी घटनास्थल पर पहुंचे। इस दौरान हॉस्पिटल में भीड़ जुट गई। इधर, पुलिस ने देर रात दो टीमें दबिश देने के लिए भेजी। पुलिस ने मामले में करीब 8 संदिग्ध लोगों को हिरासत में ले लिया है।

खबरें और भी हैं…



Source link


Like it? Share with your friends!

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win
khabarplus

0 Comments

Your email address will not be published.