टीशर्ट के बाद जूते के फीते पर राजनीति: BJP नेता ने जारी किया VIDEO; कहा- राहुल के जूते बांध रहे पूर्व मंत्री



अलवर24 मिनट पहले

राहुल गांधी के साथ चल रहे पूर्व केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह का एक वीडियो जारी कर भाजपा नेता ने दावा किया था कि उन्होंने राहुल के फीते बांधे, हकीकत कुछ और है।

अलवर में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा के दौरान एक वीडियो सामने आया। बीजेपी नेता अमित मालवीय ने गुरुवार को ट्वीटर पर वीडियो जारी कर दावा किया कि पूर्व केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने राहुल गांधी के जूते के फीते बांधे थे। इस पर पूर्व केंद्रीय मंत्री ने दूसरा वीडियो जारी करते हुए कहा कि ऐसा नहीं था। फीते मेरे खुले हुए थे, राहुल गांधी के कहने पर अपने फीते बांधे थे।

इससे पहले भी भाजपा ने राहुल गांधी की टीशर्ट को 25 हजार रुपए की होने का दावा किया था। अब वीडियो जारी कर यह दावा किया है कि भंवर जितेंद्र सिंह ने राहुल गांधी के जूते के फीते बांधे। अमित मालवीय ने वीडियो के साथ लिखा कि पूर्व केंद्रीय मंत्री भंवर जितेंद्र सिंह राहुल गांधी के जूतों के फीते बांधने के लिए अपने घुटनों पर आ गए। खड़गे जी इसी परिपाटी की बात कर रहे थे। कांग्रेस में पिद्दियों की कमी नहीं है।

भाजपा नेता अमित मालवीय ने 21 दिसंबर की शाम यह वीडियो ट्वीट किया और दावा किया कि पूर्व केंद्रीय मंत्री भंवर जितेंद्र सिंह ने राहुल गांधी के जूते के फीते बांधे।

इस ट्वीट के बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री भंवर जितेंद्र सिंह ने 21 दिसंबर को ही रात 8 बजे के करीब इसी घटना से जुड़ा दूसरा वीडियो जारी किया। यह अलग एंगल से था जिसमें भंवर जितेंद्र सिंह खुद के जूते के फीते बांधते नजर आ रहे हैं।

भंवर जितेंद्र सिंह ने वीडियो जारी कर घटना के बारे में भी बताया। कहा कि राहुल गांधी के साथ यात्रा में चलते हुए उनके (भंवर जितेंद्र सिंह) के जूते का फीता खुल गया था। राहुल गांधी ने पीछे से इसके बारे में टोका और फीते बांधने को कहा। मैंने तुरंत अपने जूते का फीता बांध लिया। उन्होंने कहा कि भाजपा सरेआम झूठ बोलती है। इस वीडियो (अमित मालवीय का वीडियो) को तुरंत बीजेपी के नेताओं ने नहीं हटाया और माफी नहीं मांगी तो उनके खिलाफ मानहानि का केस किया जाएगा।

पूर्व मंत्री के रिएक्शन और सफाई के बाद भाजपा नेता अमित मालवीय घिर गए। सोशल मीडिया पर अब उन्हें जमकर ट्रोल किया जा रहा है। हालांकि अभी (गुरुवार दोपहर) तक उन्होंने अपने ट्वीटर हैंडलर से वीडियो नहीं हटाया है। कांग्रेस ने भी ऑफिशियल ट्वीटर अकाउंट से जितेंद्र सिंह के ट्वीट को शेयर कर भाजपा पर सवाल उठाए हैं और राहुल गांधी से माफी मांगने की बात कही है। इसके अलावा कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता और पूर्व पत्रकार सुप्रिया श्रीनाते ने भी तंज भरा ट्वीट कर कहा- झूठा फिर पकड़ लिया गया।

बात यहां तक बढ़ गई कि कांग्रेस की राष्ट्रीय प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनाते ने तो राहुल गांधी का जूता तक ट्वीट कर दिया। लिखा कि राहुल गांधी के जूते फीता-फ्री हैं। उनमें जो फीते हैं वे बांधने वाले हैं ही नहीं। इसके साथ ही सुप्रिया ने भाजपा पर करारा तंज भी किया।

फैक्ट चेक में अमित मालवीय फेल

दैनिक भास्कर ने अमित मालवीय और भंवर जितेंद्र सिंह के दोनों विडियो की सच्चाई की पड़ताल की। दोनों वीडियो असली हैं और उन्हें किसी भी तरह डॉक्टरेट नहीं किया गया है। फर्क सिर्फ एंगल का है। अमित मालवीय ने जो वीडियो जारी किया उसे देखने पर वाकई लग रहा है कि राहुल गांधी के साथ चलते भंवर जितेंद्र सिंह को राहुल ने कुछ कहा और फिर वो झुककर जूते के फीते बांधने लगे। वीडियो में यह नजर नहीं आ रहा कि जितेंद्र सिंह किसके जूते के फीते बांध रहे हैं। ऐसे में दावा किया गया तो लगा कि जितेंद्र सिंह ने राहुल गांधी के ही जूते के फीते बांधे हैं। कई भाजपा नेताओं ने मालवीय के वीडियो को रिट्वीट भी कर दिया।

लेकिन इसी घटना का दूसरा वीडियो सामने आया तो उसमें साफ दिखाई दे रहा है कि जब जितेंद्र सिंह फीते बांध रहे हैं, उस वक्त राहुल से उनकी दूरी करीब 5 फीट है। इस वीडियो में यह फैक्ट सामने आया कि भंवर जितेंद्र सिंह ने राहुल गांधी के नहीं, बल्कि अपने ही जूते के फीते बांधे। इससे जुड़ी एक तस्वीर भी सामने आई है जिसमें भंवर जितेंद्र सिंह के जूते के फीते खुले नजर आ रहे हैं।

फैक्ट चेक में भाजपा नेता अमित मालवीय का दावा फेल नजर आया। हकीकत यही है कि भंवर जितेंद्र सिंह सही बोल रहे हैं। उन्होंने राहुल गांधी के जूतों के फीते नहीं बांधे, बल्कि अपने ही जूते के फीते बांधे थे।

कुल मिलाकर अब बीजेपी बैकफुट पर है। अमित मालवीय को सोशल मीडिया पर ट्रोलर्स का सामना करना पड़ रहा है और बीजेपी की इस मसले पर किरकिरी हुई है। जिस तरह से ट्वीट में मालवीय ने राहुल गांधी, भंवर जितेंद्र सिंह और कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे का नाम और कांग्रेस की परिपाटी की बात की है, उससे कांग्रेस का भड़कना लाजिमी है। कांग्रेस नेता और समर्थक भी दूसरा वीडियो जारी कर जमकर प्रधानमंत्री मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और भाजपा पर सवाल उठा रहे हैं।

भाजपा डिप्रेशन में है- भंवर जितेंद्र सिंह

जितेंद्र सिंह ने सफाई देने के बाद कहा- यह एक और उदाहरण कि भाजपा विचलित हो चुकी है। डिप्रेशन में आ चुकी है। कभी टीशर्ट, कभी बाल, कभी दाढ़ी के बाद अब जूते के फीते पर आ चुके हैं। राहुल ने मुझे कहा था कि आपके जूते के फीते खुले हैं, आप गिर जाएंगे। मैं लेस बांधने लगा तो राहुल वहीं रुक गए। इसे भाजपा ने किस तरह पेश किया। ये फ्रश्ट्रेशन में आ चुके हैं। मैंने मालवीय को कहा कि तुरंत पोस्ट हटाएं और राहुल गांधीजी से माफी मांगें। वरना उनके खिलाफ मानहानि का केस किया जाएगा।

यात्रा रोकना चाहती है भाजपा- भंवर जितेंद्र सिंह

पूर्व मंत्री जितेंद्र सिंह ने यह भी कहा कि भाजपा राहुल गांधी की यात्रा से परेशान हो गए हैं। अब काेराना का नाम लेकर यात्रा को बंद कराना चाहते हैं। प्रधानमंत्रीजी घूम रहे हैं। विज्ञान नगर में मीटिंग्स होती हैं। बीजेपी के नेताओं की जन आक्रोश रैली चल रही है। उनकी रैली में लोग नहीं आ रहे हैं। इस कारण बीजेपी डरी हुई है और तनाव में है।

यह भी पढ़ें

रॉबर्ट वाड्रा की 15 दिन बाद हो सकती है गिरफ्तारी:जोधपुर हाईकोर्ट का फैसला; मनी लॉन्ड्रिंग केस में याचिका खारिज

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के पति रॉबर्ट वाड्रा और उनकी मां मौरीन वाड्रा को जोधपुर हाईकोर्ट से झटका लगा है। जस्टिस डॉ पुष्पेंद्र सिंह भाटी की सिंगल बेंच ने रॉबर्ट व उनकी मां की पार्टनरशिप वाली स्काईलाइट हॉस्पिटैलिटी कंपनी की व एक अन्य याचिका खारिज कर दी है। हालांकि, कोर्ट ने दोनों की गिरफ्तारी पर दो सप्ताह की रोक भी लगा दी है। पूरा मामला बीकानेर के कोलायत में कंपनी की जमीनों के खरीद-फरोख्त को लेकर है। इससे पहले बुधवार को हाईकोर्ट जस्टिस डॉ. पुष्पेन्द्रसिंह भाटी की सिंगल बेंच में सुनवाई पूरी हुई थी। (पूरी खबर पढ़ें)​​​​​​​​​​​​​​

खबरें और भी हैं…



Source link


Like it? Share with your friends!

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win
khabarplus

0 Comments

Your email address will not be published.