जेके माइंस में बदमाशों ने की तोड़फोड़ और मारपीट: जाते-जाते बताया अपना नाम, लाखों का किया नुकसान



चित्तौड़गढ़11 मिनट पहले

निंबाहेड़ा सदर थाना क्षेत्र में कुछ बदमाशों ने की तोड़फोड़।

कुछ बदमाशों ने जेके सीमेंट माइंस में घुसकर जमकर उत्पात मचाया और तोड़फोड़ भी की।इस दौरान जब सिक्योरिटी गार्ड रोकने की कोशिश कर रहा था तो उस पर जानलेवा हमला भी कर दिया। जिससे वो घायल हो गया। गार्ड को इलाज के लिए हॉस्पिटल भेजा गया जहां उसके सर पर टांके लगे। वहीं, इस मामले की जानकारी पुलिस को दी गई और मामला दर्ज करवाया गया। तोड़फोड़ करने से लाखों का नुकसान भी हुआ। मामला निम्बाहेड़ा सदर क्षेत्र का है।

सब इंस्पेक्टर नारू लाल ने बताया कि कुछ बदमाशों ने जेके सीमेंट माइंस में घुसकर आने-जाने वाले गाड़ियों को रोकने की कोशिश की। सभी बदमाशों ने शराब पी रखी थी। जब उन्हें सिक्योरिटी गार्ड राजसमंद निवासी गोविंद पुत्र शंकर लाल लोहार ने रोकने की कोशिश की तो मोटरसाइकिल पर सवार दो बदमाश सिक्योरिटी गार्ड के पास पहुंचे और जान से मार डालने की धमकी दी। उसके कुछ देर बाद सिक्योरिटी काउंटर पर लगे कंप्यूटर, प्रिंटर, एसी, विंडो ग्लास, टेबल, चेयर सब तोड़ दिए। इसके बाद बदमाशों ने डंडे से सिक्योरिटी गार्ड पर हमला किया और उसके सिर पर वार किया। जब गोविंद लोहार अपनी जान बचाकर भागा तो पीछे से पत्थर फेंक कर उसे गंभीर घायल कर दिया। इसी दौरान पेट्रोलिंग करने वाली टीम के सदस्य विनोद सांवलिया, चालान कर्मचारी कैलाश जाट, छोटू सिंह और गणपत सिंह ने मौके पर आकर बीच-बचाव किया।

टीवी, एसी भी तोड़ी।

जाते-जाते बताया अपना नाम

सबको मौके पर आता देख बदमाश भाग निकले। जाते-जाते दोनों बदमाशों ने अपना नाम मदन डांगी और दूसरे ने अपना नाम गज्जू उर्फ विजय डांगी बताया। इसकी सूचना तुरंत सदर पुलिस को दी गई। मौके पर पुलिस भी पहुंची, तब तक सभी बदमाश मौके से भाग निकले। घायल सिक्योरिटी गार्ड को तुरंत हॉस्पिटल पहुंचाया गया, जहां उसका इलाज किया गया।

पत्थर फेंकते हुए बदमाश।

पत्थर फेंकते हुए बदमाश।

लाखों का हुआ नुकसान

सिक्योरिटी गार्ड गोविंद लोहार ने इसकी एक रिपोर्ट दर्ज करवाई है। रिपोर्ट में बताया कि तोड़फोड़ करने वाले सामानों में डेढ़ लाख रुपए के कंप्यूटर और प्रिंटर, 20 हजार के टेबल कुर्सी, 50 हजार रुपए का एसी, 1 लाख 75 हजार रुपए कांच के दो सेट तोड़ने की वजह से नुकसान हुआ है। इसके अलावा जिन गाड़ियों को रोका गया है, उसमें 6000 टन पर 10 लाख 20 हजार रुपए की पेनल्टी लगी है।

गाड़ियों को भी पहुंचाया नुकसान।

गाड़ियों को भी पहुंचाया नुकसान।

खबरें और भी हैं…



Source link


Like it? Share with your friends!

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win
khabarplus

0 Comments

Your email address will not be published.