गुजरात में कांग्रेसी नेताओं का विरोध करेंगे बेरोजगार: उपेन बोले- धृतराष्ट्र बने कांग्रेसी नेता, हम मर जाएंगे; लेकिन पीछे नहीं हटेंगे




जयपुर19 मिनट पहले

दीपोत्सव के मौके पर गुजरात में राजस्थान के बेरोजगारों ने मनाई काली दिवाली।

राजस्थान के बेरोजगारों ने गुजरात में कांग्रेस सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। पिछले 24 दिनों से अपनी 20 सूत्री मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे बेरोजगारों ने कहा कि राजस्थान सरकार धृतराष्ट्र बन चुकी है। उन्हें राजस्थान के लाखों युवाओं की वाजिब मांगे नजर नहीं आ रही। जिसकी वजह से लाखों युवाओं की जिंदगी अधर-झूल में अटक गई है। ऐसे में अब हम कांग्रेस के खिलाफ आर-पार की लड़ाई लड़ेंगे।

राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष उपेन यादव ने कहा कि कांग्रेसी नेताओं ने बेरोजगारों के साथ वादाखिलाफी की है। सरकार के मंत्री और प्रशासनिक अधिकारियों ने हमारे साथ लिखित समझौता किया। लेकिन अब तक उन मांगों को पूरा नहीं किया गया है। पिछले 24 दिनों से हम शांतिप्रिय तरीके से गुजरात में प्रदर्शन कर रहे हैं। बावजूद इसके हमारी बात तक नहीं सुनी जा रही। ऐसे में अब राजस्थान का जो भी नेता गुजरात में आएगा उसका पुरजोर विरोध करेंगे। ताकि गुजरात की जनता को भी कांग्रेस सरकार की युवा विरोधी नीति का पता चल सके।

उपेन ने कहा कि इससे पहले भी हम मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मिलकर अपनी मांग पहुंचाना चाहते थे। लेकिन पुलिस ने हमें गिरफ्तार कर लिया। लेकिन हम डरने वाले नहीं हैं। इस बार हमारी जान ही क्यों ना चली जाए। हम तब तक राजस्थान वापस नहीं लौटेंगे। जब तक हमारी मांगे पूरी नहीं हो जाती।

बेरोजगारों की प्रमुख मांग

  • कंप्यूटर अनुदेशक भर्ती में 40% की बाध्यता में शिथिलता देकर सभी रिक्त पदों को भरा जाए।
  • राजकीय आईटीआई कॉलेजो में 1500 पदों पर कनिष्ठ अनुदेश भर्ती की विज्ञप्ति जारी की जाए।
  • 2100+544 पदों पर पंचायतीराज JEN भर्ती की विज्ञप्ति जारी की जाए।
  • ग्राम पंचायत ईमित्र संचालक संघ से जुड़े ईमित्र ऑपरेटर अभ्यर्थियों की तमाम मांगों को जल्द से जल्द पूरा किया जाए।
  • रेडियोग्राफर, लैब टेक्नीशियन, जूनियर अकाउंटेंट, कृषि पर्यवेक्षक, एलडीसी, RAS, ईसीजी, एसआई ,CHO, सूचना सहायक, प्रोग्रामर, दंत चिकित्सक, नर्स ग्रेड 2, ANM, पशुधन सहायक ,ओटी टेक्निशियन, स्टेनोग्राफर APRO , PRO, जलधारी, सहायक कृषि अधिकारी, सेनेटरी इंस्पेक्टर, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी, कॉलेज शिक्षा में पीटीआई, लाइब्रेरियन और जलदाय विभाग में नई भर्तियां निकाली जाए।
  • राज्य सरकार द्वारा इस बजट में 1 लाख सरकारी भर्ती निकालने की घोषणा की गई थील इसलिए राज्य सरकार एक लाख भर्तियों का विभाग वाइज भर्तियों का वर्गीकरण करके जल्द से जल्द विज्ञप्तियां जारी करें।
  • शिक्षक भर्ती 2012 में अभ्यर्थियों के पक्ष में सुप्रीम कोर्ट में प्रार्थना पत्र दिया जाए।
  • प्रयोगशाला साहयक भर्ती 2018 और पशु चिकित्सक भर्ती 2019 पूरी की जाए।
  • तृतीय श्रेणी, द्वितीय श्रेणी, प्रथम श्रेणी शिक्षक भर्ती में विशेष शिक्षकों पर अधिक से अधिक निकाले जाए।
  • सरकारी एवं प्राइवेट भर्तियों में बाहरी राज्यों के अभ्यर्थियों को रोककर प्रदेश के युवा बेरोजगारों को प्राथमिकता दी जाए।
  • युवा बेरोजगार आयोग बनाया जाए।
  • बेरोजगारी भत्ते में अनिवार्य की गई इंटर्नशिप को रद्द की जाए।
  • कृषि व्याख्याता भर्ती में सभी कृषि के विषयों को शामिल किया जाए।
  • महात्मा गांधी इंग्लिश मीडियम स्कूल में 10000 पदों पर बजट में शिक्षक भर्ती निकालने की घोषणा की गई थी। इसलिए भर्ती की विज्ञप्ति जल्द से जल्द निकाली जाए।
  • फर्जी डिग्री,डिप्लोमा,खेल प्रमाण पत्र दिव्यांग सर्टिफिकेट के लिए भी सरकार सख्त कानून लेकर जाए।
  • 21 फरवरी 2021 को मंत्रियों से हुए लिखित समझोते की मांगो तथा लखनऊ समझौते की मांगों को जल्द से जल्द पूरा किया जाए।
  • CET से बाहर जूनियर अकाउंटेंट भर्ती को बाहर किया जाए और जल्द से जल्द विज्ञप्ति जारी की जाए।
  • राजस्थान पुलिस कर्मचारियों का पे ग्रेड 3600 करने के साथ ही साप्ताहिक अवकाश का प्रावधान किया जाए।
  • समय पर पदोन्नति की के साथ ही ड्यूटी का समय फिक्स करने सहित पुलिसकर्मियों की अन्य मांगों को जल्द से जल्द पूरा किया जाए।
  • नर्सिंग भर्ती 2013 जल्द से जल्द पूरी कीजाए।

खबरें और भी हैं…



Source link


Like it? Share with your friends!

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win
khabarplus

0 Comments

Your email address will not be published.