उदयपुर-अहमदाबाद रेलवे ट्रैक पर ब्लास्ट: मौके पर बारूद पड़ा मिला, पटरियां उखाड़ने की कोशिश; पीएम मोदी ने 13 दिन पहले किया था उद्घाटन



उदयपुर19 मिनट पहले

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा हाल ही शुरू की गई उदयपुर-अहमदाबाद ट्रेन की रेलवे लाइन पर विस्फोट से उखाड़ने की बड़ी साजिश को अंजाम देने का मामला सामने आया है।

13 दिन पहले शुरू हुए उदयपुर-अहमदाबाद रेलवे लाइन को ब्लास्ट उखाड़ने की बड़ी साजिश रची गई है।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 31 अक्टूबर को ही इस लाइन का उद्घाटन किया था। स्थानीय लोगों ने यहां तेज धमाके की आवाज सुनी है, इसके साथ ही मौके पर बारूद भी मिला है। धमाके से करीब 4 घंटे पहले ही ट्रैक से ट्रेन गुजरी थी। इस घटना के बाद अहमदाबाद से उदयपुर आ रही ट्रेन को डूंगरपुर रोका गया है।

स्थानीय ग्रामीणों की सजगता से इस नए रूट पर बड़ा हादसा टल गया। घटना शनिवार देर रात सलूम्बर मार्ग पर केवड़े की नाल में ओढ़ा रेलवे पु​ल की है। जहां ग्रामीणों को रात 10 बजे के आसपास धमाके की आवाज सुनाई दी। इसके बाद कुछ युवा तुरंत पटरी पर पहुंचे। वहां कि हालत देख दंग रह गए।

उन्होंने देखा कि रेलवे लाइन पर बारूद पड़ा है। इसी से रेलवे लाइन को उड़ाने की साजिश की गई। लोहे की पटरियां कई जगह से टूट चुकी थी। पु​ल पर लाइन से नट-बोल्ट भी गायब मिले। ट्रैक पर लोहे की पतली चादर भी उखड़ी हुई मिली। फिलहाल घटना के साजिशकर्ताओं का खुलासा नहीं हो पाया है।

ग्रामीणों की सूचना पर रविवार सुबह अधिकारी और पुलिस भी मौके पर पहुंची। प्राथमिक तौर पर पुलिस ने बदमाशों द्वारा इस घटना को अंजाम देना बताया है। हालांकि पुलिस मामले के पीछे कोई बड़ी साजिश की संभावना जताते हुए जांच में जुटी हुई है।

लोहे की रेलवे लाइन कई जगह टूट चुकी है ट्रेक क्षतिग्रस्त हो गया है। पुल पर लाइन से नट-बोल्ट भी गायब मिले हैं।

रेलवे ने इस लाइन पर दोनों ट्रेन का संचालन रोका
रेलवे प्रबंधन ने इस लाइन पर चलने वाली दोनों ट्रेन को फिलहाल रोक दिया है। रेलवे द्वारा लाइन को सही करने का काम जारी है। ट्रेन वापस कब शुरु होगी, इस बारे में रेलवे अधिकारियों ने फिलहाल कुछ नहीं बताया। इस लाइन से उदयपुर-असारवा ट्रेन रोज शाम 5 बजे रवाना होती है। जो रात 11 बजे आसरवा पहुंचती है। इसी तरह आसरवा-उदयपुर रोज सुबह 6:30 बजे रवाना होकर दोपहर 12:30 उदयपुर सिटी स्टेशन पहुंचती है।

31 अक्टूबर को मोदी ने आसरवा स्टेशन की थी शुरुआत
16 साल के लंबे इंतजार के बाद उदयपुर-अहमदाबाद ट्रेन की शुरुआत पीएम नरेन्द्र मोदी ने 31 अक्टूबर 2022 को आसारवा स्टेशन से हरी झंडी दिखाकर की थी। उदयपुर सिटी रेलवे स्टेशन से नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद ​कटारिया, उदयपुर सांसद अर्जुनलाल मीणा, चित्तौड़गढ़ सांसद सीपी जोशी और बांसवाड़ा सांसद कनकमल कटारा ने हरी झंडी दिखाई थी।

अधिकारी बोले, साजिश के पीछे कौन, पता करवा रहे
उदयपुर रेलवे एरिया मैनेजर बदरी प्रसाद ने बताया कि उदयपुर-अहमदाबाद लाइन पर दोनों ट्रेन का संचालन बंद कर दिया है। लाइन की मरम्मत जल्द से जल्द कराई जा रही है। साजिश के पीछे कौन है इस बारे में पता लगाया जा रहा है।

जावरमाइंस थानधिकारी अनिल विश्नाई ने बताया कि माइनिंग ब्लास्ट में काम आने वाली सामग्री का उपयोग होना सामने आया है। मौक से ​देशी विस्फोटक सामग्री मिली है। फिलहाल मामले का पता लगा रहे है।

आगे जानिए ट्रेन के बारे में…

ये भी पढ़ें

राजस्थान का पहला ब्रॉडगेज ट्रैक जो पहाड़-जंगल, नदियों से गुजरेगा:बड़ी लाइन से जुड़ेंगे उदयपुर-अहमदाबाद, रोमांचक सफर होगा; 1700 करोड़ का प्रोजेक्ट

राजस्थान में पहाड़ों, नदियों और जंगलों के बीच गुजरने वाली पहली बड़ी रेललाइन अगले महीने शुरू हो सकती है। पहली बार उदयपुर-अहमदाबाद ब्राडगेज ट्रैक से जुड़ रहे हैं। इस रेलरूट पर पैसेंजर्स का सफर किसी एडवेंचर का एहसास कराएगा। यह करीब 1700 करोड़ रुपए का प्रोजेक्ट है। जरूरी ट्रायल जून में ही पूरे हो जाने की उम्मीद है। फिर इस ट्रैक पर ट्रेनें दौड़ने लगेंगी। (पूरी खबर पढ़ें)

खबरें और भी हैं…



Source link


Like it? Share with your friends!

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win
khabarplus

0 Comments

Your email address will not be published.