आसोज में सावन जैसी बारिश: बारिश ने 10-15 दिन आगे बढ़ा दी रबी की बुवाई, 9 हजार हैक्टेयर में हो गई थी, लेकिन वापस करनी पड़ेगी, चने का रकबा बढ़ने



  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Tonk
  • The Rains Extended The Rabi Sowing By 10 15 Days, It Was Done In 9 Thousand Hectares, But Will Have To Be Returned, The Gram Acreage Will Increase.

टोंक2 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

टोंक। खराबे का जायजा लेते प्रमुख शासन सचिव (कृषि) दिनेश कुमार, आयुक्त कानाराम, कलेक्टर चिन्मयी गोपाल समेत अन्य अधिकारी।

  • खेती में पड़ी फसलों में 50 फीसदी तक खराबा, पारा 29 से 24 डिग्री पर

खेती पर फिर बेमौसम बारिश की मार पड़ रही है। अतिवृष्टि से खरीफ की फसलें पूर्व में ही खराब हो गई। अब शेष बची व कटकर खेतों में पड़ी ज्वार, बाजरे साेयाबीन की फसलों में 50 फीसदी तक नुकसान का अंदेशा है।
मौसम में नरमी और बारिश की वजह से सरसों की बुवाई नहीं हो पा रही है। जबकि यह रबी फसलों की बुवाई का पीक टाइम है। लेकिन, अभी तक 4.20 लाख हेक्टेयर लक्ष्य के मुकाबले करीब 15 हजार हेक्टेयर में ही बुवाई हो पाई है। इसमें भी 12 हजार हैक्टेयर में से 9 हजार हैक्टेयर में बुवाई फिर से करनी पड़ेगी। बारिश से खेतों में पानी भरने से किसान अभी बुवाई करने से बच रहे हैं। अरनियानील निवासी कैलाश यादव, मेहंदवास निवासी हनुमान यादव ने बताया कि बारिश से मिट्टी की परत सख्त हो जाती है जिससे अंकुरण ठीक से नहीं हो पाता। किसानों ने बताया कि अब मौसम खुलने के बाद ही बुवाई हो सकेगी। रविवार को भी दिनभर रुक रुककर कई स्थानों पर फुहार भरी बारिश से वातावरण में ठंडक का अहसास रहा। दिन में कई बार फुहार भरी बारिश का दौर चला। इससे अधिकतम तापमान 29 डिग्री तक न्यूनतम 24 डिग्री दर्ज किया गया।
खराबे का जायजा लिया
बारिश से हुए नुकसान व फसल बीमा को लेकर किसानों को जागरूक करने को लेकर प्रमुख शासन सचिव कृषि दिनेश कुमार, आयुक्त कानाराम, कलेक्टर चिन्मयी गोपाल, अतिरिक्त निदेशक कृषि यशपाल महावत, उपनिदेशक कृषि राधेश्याम मीणा, सांख्यिकी सहायक निदेशक सुगरसिंह, सहायक निदेशक दिनेश कुमार बैरवा समेत अन्य अधिकारियों ने मेहंदवास, धांधोली, दूनी, बंथली समेत कई स्थानों पर पहुंचकर खराबे का जायजा लिया। उन्होंने किसानों से बातचीत कर खराबे की सूचना टोल फ्री पर देने को कहा। मेहंदवास के सहायक कृषि अधिकारी कार्यालय में अधिकारियों की बैठक लेकर जरूरी निर्देश दिए।
बुवाई में देरी होगी : विभाग
कृषि विभाग के सांख्यिकी सहायक निदेशक सुगरसिंह ने बताया कि अभी सरसों की बुवाई का समय है। बारिश के चलते रबी की बुवाई में देरी होगी।
चने की तरफ बढ़ेगा रुझान
बारिश के चलते कृषि विभागीय अधिकारियों का मानना है कि अब सरसों बुवाई 10 से 15 दिन बाद ही हो सकेगी। ऐसे में किसानों का झुकाव सरसों के बदले चने की बुवाई की ओर बढ़ेगी।

खबरें और भी हैं…



Source link


Like it? Share with your friends!

What's Your Reaction?

hate hate
0
hate
confused confused
0
confused
fail fail
0
fail
fun fun
0
fun
geeky geeky
0
geeky
love love
0
love
lol lol
0
lol
omg omg
0
omg
win win
0
win
khabarplus

0 Comments

Your email address will not be published.